रो पड़ी हनीप्रीत, बोली- हीरोइन नहीं मैं हमेशा कैमरे के पीछे रहना चाहती थी

News

टीवी पर सामने आई हनीप्रीत इंसा ने अपने बारे में कई खुलासे किए हैं. Media के साथ ख़ास बातचीत में उसने कहा कि वो कभी भी हीरोइन नहीं बनना चाहती थी. Media के सवाल पर उसने कहा, ‘ऐसा कुछ नहीं थी. मैं हीरोइन नहीं बनना चाहती थी. मैं हमेशा कहती थी कि मैं कैमरे के पीछे रहना चाहती हूं.’

टीवी पर सफाई देते हुए वो रो पड़ी. हनीप्रीत, राम रहीम की सभी फिल्मों में काम कर चुकी है. वह इंडियन फिल्म एंड टेलिविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन की सदस्य भी थी. पिछले दिनों सीबीआई कोर्ट के फैसले के बाद IFTDA ने राम रहीम के साथ उसकी मेंबरशिप कैंसल की थी. हनीप्रीत IFTDA की आजीवन सदस्य थी. उसे पिछले साल मार्च में सदस्यता दी गई थी.

और क्या कहा हनीप्रीत ने

मीडिया पर आरोप लगाते हुए हनी ने कहा, ‘जिस हनीप्रीत को आपने (मीडिया) दिखाया है, वो हनीप्रीत ऐसी नहीं है. उसे ऐसे दिखाया गया है कि उससे मैं खुद डरने लगी हूं. मैं अपनी मेंटल स्थिति बयां नहीं कर सकती हूं. मुझे देशद्रोही कहा गया है, जो बिल्कुल गलत है. अपने पापा के साथ एक बेटी कोर्ट में जाती है. ऐसा बिना परमिशन के संभव नहीं है.

रोते हुए…आप मेरी कंडीशन समझिएगा. मैं डिप्रेशन में चली गई थी. जो लड़की अपने बाप के साथ देशभक्ति की बात करती थी, वो जेल में चले गए. फिर उस लड़की पर देशद्रोह का आरोप लगाया गया. मुझे कानून की प्रक्रिया का पता ही नहीं था. पापा के जाने के बाद मैं तो बेसहारा हो गई. मुझे लोगों ने जैसा गाइड किया मैंने वैसे ही किया. मैं हरियाणा-पंजाब हाईकोर्ट जाऊंगी. पीछे नहीं हटी. लेकिन मेंटल स्थिति संभलने में थोड़ा टाइम लगता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *